Home

मुख्य पृष्ठ   :   संपर्क करें   :   साईट मैप  :खोजें :  English   

New Page 1
About Us
  परिचय 
  स्मारक
  उत्खनन 
  संरक्षण तथा परिरक्षण
  पुरालेखीय अध्ययन 
  संग्रहालय 
  विधान
  प्रकाशन
  पुरातत्व संस्थान 
  केंद्रीय पुरावशेष संग्रह
  राष्ट्रीय मिशन 
 

केंद्रीय पुरातत्व पुस्तकालय 

 

अन्तर जलीय पुरातत्व

 

विदेशों में गतिविधियाँ 

 

उद्यान

 

छायाचित्र चित्रशाला

 

सिंहावलोकन 

 

चलचित्र 

 

सूचना का अधिकार अधिनियम 

होम > संग्रहालय  > विक्रमशिला
संग्रहालय-विक्रमशिला

पुरातत्‍वीय संग्रहालय, विक्रमशिला

(जिला भागलपुर, बिहार)

 

यह संग्रहालय भागलपुर जिले में एंटीचक में स्‍थित है। इसे उत्‍खनन के दौरान पाई गई पुरावस्‍तुओं को प्रदर्शित करने के लिए 2004 में स्‍थापित किया गया था। संग्रहालय की इमारत योजना के अनुसार एक क्रूस का आकार बनाती है। पाल अवधि की पुरावस्‍तुओं को संग्रहालय की इमारत के भूतल और प्रथम तल पर प्रदर्शित किया गया है। विक्रमशीला के उत्‍खनित स्‍थल का एक शल्‍की मॉडल इमारत के प्रथम तल पर प्रदर्शित है।

संग्रहालय के भूतलों में बुद्ध, बोधिसत्‍व, अवलोकितेश्‍वर, लोकनाथ, जम्‍माला, मारीचि, तारा, अपराजिता जैसे बौद्ध देव-समूह की पाषाण प्रतिमाएं प्रदर्शित की गई हैं। शिव, पार्वती, गणेश, कार्तिकेय, चामुना, महिषासुरमर्दिनी, कृष्‍ण और सुदामा, सूर्य, विष्‍णु की मूर्तियां बाह्मण मत की महत्‍वपूर्ण वस्‍तुओं में शामिल हैं। इसके अलावा, टेराकोटा के सांचे और मूर्तिकाएं तथा लोहे की वस्‍तुएं प्रदर्शित की गई अन्‍य महत्‍वपूर्ण वस्‍तुएं हैं।

प्रथम तल में विभिन्‍न आकारों के मनके, झुमके, लॉकेट, अंगूठियां, टेराकोटा की पशु-पक्षियों की मूर्तिकाएं, छिद्र वाले पात्र, बौद्ध और ब्राह्मण देवी-देवताओं की प्रतिमाएं एवं सीप की वस्‍तुएं और बुद्ध, मंजुश्री, वज्रपाणि, अवलोकितेश्‍वर जैसे बौद्ध देवी-देवताओं की पाषाण प्रतिमाएं मौजूद हैं।


 

 

 

 

 

Know about

Patna Circle

 

 

 

 

इसके बारे में जानें

 

पटना मंडल

 

 

 

 

 

 

 

Contact Details:

D.N. Sinha
Assistant Superintending Archaeologist, 
Archaeological Museum, Archaeological Survey of India, Vikramshila, (Antichak)

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 
About Us