Home

मुख्य पृष्ठ   :   संपर्क करें   :   साईट मैप  :खोजें :  English   

New Page 1
About Us
  परिचय 
  स्मारक
  उत्खनन 
  संरक्षण तथा परिरक्षण
  पुरालेखीय अध्ययन 
  संग्रहालय 
  विधान
  प्रकाशन
  पुरातत्व संस्थान 
  केंद्रीय पुरावशेष संग्रह
  राष्ट्रीय मिशन 
 

केंद्रीय पुरातत्व पुस्तकालय 

 

अन्तर जलीय पुरातत्व

 

विदेशों में गतिविधियाँ 

 

उद्यान

 

छायाचित्र चित्रशाला

 

सिंहावलोकन 

 

चलचित्र 

 

सूचना का अधिकार अधिनियम 

होम > संग्रहालय  > मुर्शिदाबाद  
संग्रहालय-मुर्शिदाबाद 

हजारद्वारी महल संग्रहालय, मुर्शिदाबाद

(पश्‍चिम बंगाल)

 

हजारद्वारी महल संग्रहालय बंगाल की भूतपूर्व राजधानी मुर्शिदाबाद में हजारद्वारी महल में स्‍थित है। मुर्शिदाबाद सड़क मार्ग से कोलकाता से 219 किलोमीटर की दूरी पर स्‍थित है। इसे प्रसिद्ध वास्‍तुकार मैकलिओड डंकन द्वारा ग्रीक (डोरिक) शैली का अनुसरण करते हुए नवाब नाज़िम हुमायूँ जहॉं (1824-1838 ई.) के शासन काल में बनाया था। इस महल का नाम हजारों से भी अधिक वास्‍तविक और आभासी द्वारों और इसमें मौजूद विशाल गलियारों के कारण पड़ा।

1985 में इस महल के बेहतर परिरक्षण के लिए भारतीय पुरातत्‍व सर्वेक्षण को सौंप दिया गया। यह संग्रहालय भारतीय पुरातत्‍व सर्वेक्षण का सबसे बड़ा स्‍थल संग्रहालय माना जाता है और इसमें बीस दीर्घाएं प्रदर्शित हैं जिनमें 4742 पुरावस्‍तुएं मौजूद हैं जिनमें से जनता के लिए 1034 पुरावस्‍तुएं प्रदर्शित की गई हैं।

पुरावस्‍तुओें के संग्रह में विभिन्‍न प्रकार के हथियार, डच, फ्रांसिसी और इतालवी कलाकारों द्वारा बनाए गए तैल चित्र, संगमरमर की मूर्तियॉं, धातु की वस्‍तुएं, चीनी मिट्टी और गचकारी की मूर्तियॉं, फरमान, विरल पुस्‍तकें, पुराने मानचित्र, पाण्‍डुलिपियाँ, भू-राजस्‍व के रिकार्ड, पालकी शामिल हैं जिनमें से अधिकतर 18वीं और 19वीं शताब्‍दियों से सम्‍बंधित हैं।

प्रवेश शुल्‍क : भारतीय नागरिकों के लिए 5/- रू. और विदेशियों के लिए $ $2 अमरीकी डालर या 100/- रू.

संग्रहालय शुक्रवार को बंद रहता है। $

 

 

 

 

 

 

 

Know about

Kolkata Circle

 

 

 

इसके बारे में जानकारी हासिल करें।

कोलकाता मंडल

 

 

 

 

 

 

सम्‍पर्क विवरण

हजारद्वारी महल

संग्रहालय

श्री गौतम हलदर

ए.एस.ए.

03482-270334

  (दूरभाष)      03482-271605 (फैक्‍स)

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 
About Us